हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

3 संभागों सहित 20 जिलों में भारी बारिश, मानसून पकड़ेगा रफ्तार

कई क्षेत्रों में स्ट्रांग सिस्टम सक्रिय होने की वजह से भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है।

सागर, शहडोल, ग्वालियर, इंदौर, जबलपुर संभाग में बारिश की गतिविधि जारी रहने वाली है।

इसके अलावा वर्तमान में उत्तर प्रदेश, गुजरात के तट और उड़ीसा के पास तीन जगह ऊपरी हवा का साइक्लोनिक सरकुलेशन तैयार हुआ है।

जिसके कारण अरब सागर और बंगाल की खाड़ी से भी नमी मध्यप्रदेश पहुंच रही है।

 

आज से सक्रिय होगा स्ट्रांग सिस्टम

मध्य प्रदेश में बारिश का दौर शुरू हो गया है। इसके साथ ही मौसम सुहावना बना हुआ है।

जबलपुर इंदौर सहित 21 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया। इसके साथ ही कई इलाकों में अत्यधिक बारिश देखने को मिली है।

शुक्रवार से बारिश के स्ट्रांग सिस्टम सक्रिय होंगे। जिसके कारण राजधानी भोपाल सहित धार, गुना, रतलाम, उज्जैन, खजुराहो, दमोह, सतना, उमरिया में भी भारी बारिश की चेतावनी जारी कर दी गई है।

इसके अलावा टीकमगढ़, इंदौर जिले में भी तेज बारिश का पूर्वानुमान जताया गया है।

 

मौसम विभाग के मुताबिक कई इलाकों में बारिश की वजह से नदी नाले उफान पर आ गए हैं। सड़क-सरकारी दफ्तरों में पानी भर गया है।

बुधवार को 2 घंटे टीकमगढ़ में हुई बारिश के बाद कलेक्टर और जेलर के बंगले में पानी भर गया।

इसके साथ ही गर्ल्स हॉस्टल में पानी भरने की वजह से लड़कियां अंदर ही फंस गई है।

बुरहानपुर में तेज बारिश से सड़कों पर जलजमाव की स्थिति उत्पन्न हो गई है।

 

भारी बारिश की चेतावनी

1 दिन के बाद कई क्षेत्रों में स्ट्रांग सिस्टम सक्रिय होने की वजह से भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है।

सागर, शहडोल, ग्वालियर, इंदौर, जबलपुर संभाग में बारिश की गतिविधि जारी रहने वाली है।

इसके अलावा वर्तमान में उत्तर प्रदेश, गुजरात के तट और उड़ीसा के पास तीन जगह ऊपरी हवा का साइक्लोनिक सरकुलेशन तैयार हुआ है।

जिसके कारण अरब सागर और बंगाल की खाड़ी से भी मध्यप्रदेश पहुंच रही है।

वहीं प्रदेश में हल्की से मध्यम बारिश की चेतावनी जारी की गई है।

शनिवार की गतिविधियों में तेजी देखी जाएगी। 5 संभागों में कहीं-कहीं भारी बारिश की चेतावनी जारी कर दी गई है।

 

इन जिलों में बारिश की चेतावनी

7 जुलाई से कई इलाकों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है।

जबलपुर संभाग के अलावा ग्वालियर चंबल में एक चक्रवाती हवा का संचालन देखने को मिलेगा।

वहीं दक्षिण गुजरात और पश्चिम बंगाल की खाड़ी में भी चक्रवाती परिसंचरण निर्मित हुआ है।

मध्य प्रदेश में 8 जुलाई से एक बार फिर से बारिश और गरज चमक की गतिविधि देखने को मिल सकती है।

जिन जिलों में बारिश की चेतावनी जारी की गई।

उसमें इंदौर, बुरहानपुर, खंडवा, खरगोन, बड़वानी, अलीराजपुर, झाबुआ के अलावा धार शामिल है।

इन क्षेत्रों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है। इसके अलावा कटनी, जबलपुर, नरसिंहपुर, छिंदवाड़ा, सिवनी, मंडला,बालाघाट में भी अति भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है।

राजधानी भोपाल में बारिश की गतिविधि जारी रहने वाली है। उसके साथ ही पर्यावरण और कोलार में भी तेज बारिश की गतिविधि देखने को मिल सकती है।

उत्तर प्रदेश, गुजरात और उड़ीसा का सरकुलेशन तैयार हुआ है। बंगाल की खाड़ी से बारिश की गतिविधि में वृद्धि होगी।

यह भी पढ़े : किसानों को मिलता है सीधे 3 लाख का लोन, वो भी कम ब्याज पर

 

यह भी पढ़े : किसान अपना चेहरा दिखाकर करा सकेंगे पीएम किसान योजना के लिए केवाईसी

 

शेयर करें