हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें
WhatsApp Group Join Now

दिसंबर महीने में इन 4 सब्जियों की खेती से होगी भरपूर कमाई

सब्जियों की खेती

 

किसानों के पास अमीर बनने का अच्छा मौका है, दिसंबर माह में इन सब्जियों की खेती से होगी अच्छी कमाई, जानें..

 

रबी सीजन में किसान अच्छे मुनाफे के लिए सब्जियों की खेती करते हैं।

ऐसे में हम आपको अगले महीने यानी दिसंबर में बोई जाने वाली कुछ ऐसी सब्जियों के बारे में बताने जा रहे हैं जिसकी खेती कर किसान मालामाल बन सकते हैं।

हर फसल की बुवाई का एक उचित वक्त होता है और उसी वक़्त उसकी बुवाई किसानों द्वारा की जाएं तो पैदावार अच्छी होती है।

अगर फसलों की बुवाई समय से पहले या समय के बाद की जाएं तो इसका असर फसल की उपज और उसकी गुणवत्ता पर पड़ता है, जिसके परिणामस्वरूप कई बार किसानों को नुकसान भी झेलना पड़ता है।

ऐसे में आज हम इस लेख के माध्यम से आपको बताएंगे की दिसंबर महीने में किन सब्जियों की खेती कर अच्छा मुनाफा कमाया जा सकता है।

इन सब्जियों की खेती करने में अन्य फसलों के मुकाबले लागत कम आती है और कम समय में मुनाफा भी अधिक मिल जाता है।

 

इन सब्जियों की खेती करें

  • मूली ,
  • पालक ,
  • बैंगन ,
  • गोभी ,
  • टमाटर इत्यादि।

 

मूली की खेती

दिसंबर महीने में मूली की खेती की जा सकती है।

क्योंकि इसकी फसल के लिए ठंडी जलवायु उपयुक्त मानी जाती है।

इसके फसल से अच्छा उत्पादन लेने के लिए जीवांशयुक्त दोमट या बलुई दोमट मिट्टी सबसे अच्छी होती है।

बाजार में इसकी कई उन्नत किस्में मौजूद हैं जिसमें से जापानी सफ़ेद, पूसा देशी, पूसा चेतकी, अर्का निशांत, जौनपुरी, बॉम्बे रेड, पूसा रेशमी, पंजाब अगेती, पंजाब सफ़ेद, आई.एच. आर1-1 एवं कल्याणपुर सफ़ेद अच्छी पैदावार के लिए जानी जाती है।

 

पालक की खेती

पालक की फसल के लिए ठंडा मौसम सबसे सही माना जाता है।

इसकी उन्नत किस्मों की बात की जाएं तो पंजाब ग्रीन व पंजाब सलेक्शन अधिक पैदावार देने वाली किस्मों में जानी जाती हैं।

इसके अलावा पालक की अन्य उन्नत किस्मों में पूजा ज्योति, पूसा पालक, पूसा हरित, पूसा भारती आदि भी शामिल हैं।

इसकी खेती दिसंबर महीने में कर किसान अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं।

 

बैंगन की खेती

इसकी खेती के लिए ठंडा वातावरण चाहिए होता है।

ऐसे में आने वाले मौसम में आप इसकी खेती कर अच्छा मुनाफा पा सकते हैं।

पूसा पर्पल राउंड, पूसा हाइब्रिड-6, पूसा अनमोल और पूसा पर्पल लोंग के बेहतरीन किस्मों को लगाकर मुनाफा कमा सकते हैं।

यह सभी उन्नत बीज एक हेक्टेयर खेत में लगभग 450 से 500 ग्राम बीजों को डालकर करीब अपने खेत से 400 कुंटल तक प्रति हेक्टेयर तक का उत्पादन कर सकते हैं।

ज्यादातर बैंगन रोपाई के 60 से 80 दिनों के बाद पूरी तरह तैयार हो जाते हैं।

एक सामान्य नियम के अनुसार, किसान बीज भूरे होने से पहले बैंगन की कटाई करते हैं।

 

गोभी की खेती

गोभी को सर्दियों की सब्जी का राजा कहा जाता है इसकी खेती सर्दी में करना सबसे अच्छा होता है.

इसे आप हर तरीके की भूमि में उगा सकते हैं।

लेकिन ध्यान रहें जल निकासी वाली हल्की भूमि इसके लिए सबसे उपयुक्त मानी जाती है।

इसकी उन्नत किस्मों में गोल्डन एकर, पूसा मुक्त, पूसा ड्रमहेड, के-वी, प्राइड ऑफ इंडिया, कोपन हगें, गंगा, पूसा सिंथेटिक, श्रीगणेश गोल, हरियाणा, कावेरी, बजरंग आदि शामिल हैं.

इन किस्मों की औसतन उत्पादन क्षमता 75-80 क्विंटल प्रति एकड़ है।

 

टमाटर की खेती

अगले महीने यानी दिसंबर महीने में टमाटर की खेती कर किसान गर्मियों तक अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं।

टमाटर की प्रमुख उन्नत किस्में जैसे- अर्का विकास, सर्वोदय, सिलेक्शन -4, 5-18 स्मिथ, समय किंग, टमाटर 108, अंकुश, विकरंक, विपुलन, विशाल, अदिति, अजय, अमर, करीना, अजित, जयश्री, रीटा, बी.एस.एस. 103, 39 आदि की बुवाई कर अच्छा पैदावार पा सकते हैं।

यह भी पढ़े : मल्टी क्रॉप थ्रेशर, पैडी थ्रेशर एवं चिसल प्लाऊ पर अनुदान हेतु आवेदन

 

यह भी पढ़े : मसाला फसलों की खेती के लिए अनुदान हेतु किसान आवेदन करें

 

शेयर करें