हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

मध्‍य प्रदेश में बदल सकता है मौसम, आंधी-पानी के साथ ओलावृष्टि की भी है आशंका

 

प्रदेश में अधिकांश जिलों में गरज-चमक के साथ बारिश होने की संभावना बढ़ गई है।

 

मध्य प्रदेश के अलावा अन्य प्रदेशों में सक्रिय चार वेदर सिस्टम के कारण गुरुवार से राजधानी सहित प्रदेश के अधिकांश जिलों में मौसम का मिजाज बिगड़ने वाला है।

इस दौरान बादल छाने के साथ ही तेज हवाएं चलेंगी, गरज-चमक के साथ बौछारें पड़ेंगी। ओलावृष्टि की भी आशंका है। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक गुरुवार के अलावा शुक्रवार को भी ओला-पानी की स्थिति बनी रह सकती है।

 

यह भी पढ़े : एक सप्ताह बाद शुरू होगी चना खरीदी

 

मौसम विज्ञान केंद्र के मौसम विज्ञानी पीके साहा ने बताया कि वर्तमान में एक पश्चिमी विक्षोभ जम्मू काश्मीर में बना हुआ है। इसके प्रभाव से पश्चिमी राजस्थान पर एक प्रेरित चक्रवात बन गया है।

दक्षिण-पूर्वी मप्र से लेकर कर्नाटक तक पूर्वी हवाओं का एक ट्रफ बना हुआ है। इस सिस्टम के साथ पश्चिमी हवाओं का टकराव हो रहा है। इसके अतिरिक्त दक्षिण-मध्य महाराष्ट्र पर भी ऊपरी हवा का चक्रवात बना हुआ है। इन चार सिस्टम के कारण प्रदेश में हवाओं के साथ नमी आने का सिलसिला शुरू हो गया है।

 

इससे राजधानी सहित प्रदेश में अधिकांश जिलों में गरज-चमक के साथ बारिश होने की संभावना बढ़ गई है। इस दौरान बिजली गिरने और ओलावृष्टि होने के भी आसार हैं। शुक्ला के मुताबिक रुक-रुक कर बरसात होने का सिलसिला 21 मार्च तक बने रहने की भी संभावना है।

 

बुधवार को चार महानगरों का तापमान

शहर–अधिकतम–न्यूनतम

भोपाल–35.9–20.6

इंदौर–36.0–22.2

जबलपुर–35.5–17.9

ग्वालियर–37.2–17.2

(नोट तापमान डिग्रीसे. में)

 

यह भी पढ़े : 16 से 20 मार्च के दौरान इन जिलों में हो सकती है बारिश

 

source : naidunia

 

शेयर करे