हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें
WhatsApp Group Join Now

किसानों को आत्मनिर्भरता की ओर ले जाएगी मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना

राजस्व मंत्री श्री गोविन्द सिंह राजपूत ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान एकमात्र ऐसे किसान पुत्र मुख्यमंत्री है, जिन्होंने किसानों के दर्द को समझा, उनके महत्व को जाना और उनके कल्याण के लिए एक नहीं अनेक ऐसी योजनाएं क्रियान्वित की जिससे प्रदेश के किसान आत्मनिर्भर बन सके।

 

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री श्री चौहान जानते हैं कि किसान मानसून पर निर्भर रहता है। मौसम की अनिश्चितता से किसान कभी अतिवृष्टि से तो कभी फसलों की बीमारी के कारण आर्थिक रूप से चिन्ताग्रस्त रहता है। प्रधानमंत्री किसान कल्याण योजना में सम्मान निधि पाने वाले हितग्राहियों के लिए यह योजना सोने पे सुहागा सिद्ध होगी।

 

मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना से किसानों को आत्मनिर्भर बनने में मदद मिलेगी। मंत्री श्री राजपूत ने यह बात मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के राज्य-स्तरीय शुभारंभ अवसर पर कही।

 

यह भी पढ़े : प्रदेश के 5 लाख 70 हजार 298 किसानों के खातों में 2 हजार की पहली किश्त ट्रांसफर

 

राजस्व मंत्री श्री राजपूत ने कहा कि किसान कल्याण योजना का लाभ प्रधानमंत्री सम्मान निधि योजना के पात्र हितग्राहियों को ही दिया जाएगा। प्रधानमंत्री किसान सम्मान योजना के अंतर्गत किसान परिवारों को प्रतिवर्ष 6 हजार रूपये तीन समान किश्तों में प्रदान किया जा रहा है।

 

अब मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के तहत प्रतिवर्ष 4 हजार रूपए दो समान किश्तों में किसानों को अतिरिक्त रूप से दिए जाएंगे। इस प्रकार प्रदेश के 77 लाख कृषक परिवारों को वर्ष में 10 हजार रूपये सम्मान निधि के रूप में मिलेगी। मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना में 3200 करोड़ रूपये किसानों को वितरित किये जायेंगे।

 

शेयर करे