हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

अब AI से मिलेगा किसानों को उनके सभी प्रश्नों का जबाव

देश में किसानों को अधिक सुविधा उपलब्ध कराने और कृषि को आसान बनाने के लिए केंद्र सरकार लगातार नई तकनीकों को बढ़ावा दे रही है।

इन दिनों दुनिया में आर्टिफिशियल इंटिलिजेंस AI की धूम है, जिसको देखते हुए सरकार ने देश के किसानों को भी AI तकनीक का लाभ देने का फैसला लिया है।

इस कड़ी में 21 सितंबर 2023 के दिन केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण राज्य मंत्री श्री कैलाश चौधरी ने प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के लिए AI चैटबॉट पीएम किसान मित्र को लॉन्च किया।

 

सरकार ने लॉन्च किया AI चैटबॉट

एआई चैटबॉट का लॉन्च पीएम-किसान योजना की दक्षता और पहुंच बढ़ाने में कारगर साबित होगा।

एआई चैटबॉट से किसानों को उनके प्रश्नों का त्वरित, स्पष्ट और सटीक उत्तर मिलेगा।

जिससे किसानों को योजना के तहत आ रही समस्याओं का समाधान मिनटों में घर बैठे ही हो जाएगा।

 

होगा किसानों की समस्याओं का समाधान

इस अवसर पर केंद्रीय कृषि राज्य मंत्री ने अपने संबोधन में कहा कि कृषि क्षेत्र को तकनीक के साथ जोड़ने के लिए उठाया गया यह बड़ा कदम किसानों के जीवन में बहुत बड़ा परिवर्तन लाने वाला है।

उन्होंने कहा कि आज कृषि मंत्रालय ने विभिन्न भाषाओं में AI (एआई) चैटबॉट के माध्यम से किसानों की समस्याओं का समाधान एक ही स्थान पर मोबाइल के माध्यम से करने की पहल कर उनकी शिकायतों का निपटान करने का एक महत्वपूर्ण काम किया है।

 

AI चैटबॉट पर उपलब्ध होगी यह जानकारी

केंद्रीय कृषि राज्य मंत्री ने इस अवसर पर अधिकारियों से अपील की कि वे किसानों को AI (एआई) चैटबॉट के प्रयोग के लिए प्रशिक्षण प्रदान करें व उचित निगरानी रखें।

साथ ही चैटबॉट में शुरुआत में आने वाली समस्याओं को दूर करने के लिए भी निर्देश दिये।

बता दें कि इस पहल को आगे मौसम की जानकारी, फसल नुकसान व मृदा की स्थिति की जानकारी देने, बैंक पेमेंट आदि से भी जोड़ा जाएगा।

साथ ही इस पहल को आगे कृषि मंत्रालय की सभी बड़ी योजनाओं के लिए भी लागू करने का प्रस्ताव है।

 

पीएम किसान मित्र AI चैटबॉट क्या है?

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना जो कि केंद्र सरकार की सबसे महत्वपूर्ण योजना है, में किसानों को आ रही समस्याओं के त्वरित समाधान के लिए इसे विकसित किया गया है।

इस चैटबॉट को ईकेस्टेप (EKstep) फाउंडेशन और भाषिनी (Bhashini) के सहयोग से बनाया गया है।

एआई चैटबॉट पीएम किसान योजना के लाभार्थियों के लिए मार्गदर्शक के रूप में काम करेगा।

साथ ही उन्हें योजना से संबंधित उनके प्रश्नों का समय पर और सटीक उत्तर भी देगा।

पीएम-किसान शिकायत प्रबंधन प्रणाली में एआई चैटबॉट की शुरुआत का उद्देश्य किसानों को उपयोगकर्ता-अनुकूल और सुलभ प्लेटफॉर्म के साथ सशक्त बनाना है।

अभी एआई चैटबॉट किसानों को उनके आवेदन की स्थिति, भुगतान विवरण, अपात्रता की स्थिति और अन्य योजना-संबंधित अपडेट की जानकारी प्राप्त करने में सहायता करेगा।

 

किसानों को उनकी भाषा में मिलेगा जबाव

एआई चैट बॉट को अलग-अलग भाषाओं के लिए तैयार किया गया है, जिससे किसान अपनी भाषा के अनुसार चैटबॉट पर सवाल कर सकते हैं साथ ही उनकी भाषा में ही उन्हें इसका जबाव भी मिलेगा।

आज के समय में AI चैटबॉट अंग्रेजी, हिंदी, बंगाली, उड़िया और तमिल भाषा में उपलब्ध है।

कुछ ही समय में यह देश की सभी 22 भाषाओं में उपलब्ध होगा।

देखे बैटरी से संचालित लहसुन कटिंग मशीन