हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

सोलर पैनल पर दी जा रही है 78 हजार रुपये तक की सब्सिडी

हाल ही में प्रधानमंत्री मोदी द्वारा शुरू की गई पीएम सूर्य घर मुफ्त बिजली योजना का लाभ अब देश के लोगों को दिया जाने लगा है, इसके लिए कई राज्य सरकारों के द्वारा आवेदन प्रक्रिया शुरू कर दी गई है।

योजना के अंतर्गत देश के 1 करोड़ घरों को मुफ्त बिजली उपलब्ध कराई जाएगी।

मध्य प्रदेश में लोगों को इस योजना का लाभ मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी ने देना शुरू कर दिया है।

 

मुफ्त बिजली योजना शुरू हुए आवेदन

मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी अपने क्षेत्र के अन्तर्गत आने वाले भोपाल, नर्मदापुरम्, ग्वालियर एवं चंबल संभाग के 16 जिलों के बिजली उपभोक्ताओं को योजना से जोड़ने जा रही है।

इस नई योजना में छत पर सौर ऊर्जा स्थापित करने और एक करोड़ घरों के लिए हर महीने 300 यूनिट तक मुफ्त बिजली प्रदान की जाएगी, शेष बिजली को बेचकर लाभार्थी अतिरिक्त आमदनी भी कर सकते हैं।

 

कितनी सब्सिडी दी जाएगी?

  • इस योजना के अंतर्गत एक किलोवॉट के सोलर संयन्त्र लगाने पर 30 हजार रूपये,
  • दो किलोवॉट सोलर संयन्त्र लगाने पर 60 हजार रुपए तथा
  • तीन किलोवॉट या उससे ऊपर के सोलर संयन्त्र स्थापना पर 78 हजार रुपए की सब्सिडी केन्द्र सरकार द्वारा दी जा रही है। यह सब्सिडी पहले से ज्यादा है।

मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के मुताबिक़ दिसम्बर 2023 की स्थिति में केन्द्र सरकार द्वारा प्रति किलोवॉट 14 हजार 588 रुपये की सब्सिडी दी जा रही थी जो कि जनवरी 24 में बढ़ाकर 18 हजार रुपए प्रति किलोवॉट कर दी गई थी।

जिसे अब और बढ़ाकर दो किलोवॉट तक 30 हजार रुपए प्रति किलोवॉट कर दी गई है।

इस तरह दिसंबर की तुलना में दिनांक 13 फरवरी 2024 के बाद लगने वाले दो किलोवॉट तक के सौर्य संयन्त्र पर मिलने वाली सब्सिडी 36 हजार रुपए के स्थान पर अब उपभोक्ता को 60 हजार रुपए की सब्सिडी मिलेगी।

 

आवेदन कहाँ करें

अधिक से अधिक व्यक्ति योजना का लाभ ले सके इसके लिए सरकार ने ऑनलाइन पोर्टल शुरू किया है, जहां इच्छुक व्यक्ति आसानी से आवेदन कर सकते हैं।

योजना का लाभ लेने के लिए इच्छुक व्यक्ति को राष्ट्रीय पोर्टल pmsuryaghar.gov.in पर आवेदन करना होगा या pmsuryaghar App डाउनलोड करके भी पंजीयन किया जा सकता है।

पोर्टल पर छत पर सौर ऊर्जा स्थापित करने के लिए एक कंपनी का चयन करना होगा।

इसके अलावा पोर्टल पर सोलर संयंत्र लगाने के लिए आवश्यक जगह, उससे होने वाले लाभ, विक्रेता की रेटिंग आदि की जानकारी भी देखी जा सकती है।

यह भी पढ़े : कृषि ऋण जमा करने की अंतिम तिथि बढाई गई