हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

मौसम में बदलाव, एक हफ्ते तेज वर्षा नहीं, बढ़ेगा पारा

बंगाल की खाड़ी में अब एक सप्ताह तक किसी मौसम प्रणाली के सक्रिय होने की संभावना नहीं है, इस वजह से मौसम अब साफ होने के आसार हैं।

मानसून की गतिविधियों में कमी आएगी और तापमान में भी वृद्धि होगी।

हालांकि तापमान बढ़ने पर स्थानीय स्तर पर कहीं-कहीं छिटपुट बौछारें पड़ सकती हैं।

 

आज इन जिलों में बूंदाबांदी के आसार

कोई नया सिस्टम एक्टिव ना होने के चलते मध्य प्रदेश में एक बार फिर बारिश पर ब्रेक लग गया है।

फिलहाल एक हफ्ते मौसम के यूहीं बने रहने के आसार है।

हालांकि लोकल सिस्टम के चलते 3-4 संभागों में हल्की से मध्यम बारिश होने का अनुमान है।

अगले 10 दिन तक मानसून ब्रेक की स्थिति में रहेगा, ऐसे में किसानों के लिए भी एडवाइजरी जारी की गई है।

 

आज इन जिलों में बारिश के आसार

एमपी मौसम विभाग के अनुसार,  आज शनिवार को रीवा, ग्वालियर, चंबल, सागर और शहडोल संभाग में कहीं-कहीं हल्की बूंदाबांदी हो सकती है

भोपाल, इंदौर, उज्जैन, जबलपुर और नर्मदापुरम संभाग में भी लोकल सिस्टम से बूंदाबांदी का अनुमान है।

आज भोपाल, उज्जैन और जबलपुर के कुछ इलाकों में बूंदाबांदी हो सकती है। इंदौर और ग्वालियर में मौसम साफ रहेगा।

इंदौर में अगले चार से पांच दिन तक वर्षा की गतिविधियों पर रोक लगी रहेगी, कहीं कहीं हल्की बूंदाबांदी हो सकती है।

 

मौसम साफ, कोई मजबूत सिस्टम एक्टिव नहीं

एमपी मौसम विभाग के अनुसार, मानसून द्रोणिका का पश्चिमी सिरा हिमालय की तलहटी में पहुंच गया है, वही एक पश्चिमी विक्षोभ पंजाब के आसपास द्रोणिका के रूप में बना हुआ है,

ऐसे में बंगाल की खाड़ी में अब एक सप्ताह तक किसी मौसम प्रणाली के सक्रिय होने की संभावना नहीं है,

इस वजह से मौसम अब साफ होने के आसार हैं । मानसून की गतिविधियों में कमी आएगी और तापमान में भी वृद्धि होगी।

हालांकि तापमान बढ़ने पर स्थानीय स्तर पर कहीं-कहीं छिटपुट बौछारें पड़ सकती हैं।

सब्सिडी पर कृषि यंत्र लेने के लिये आवेदन करें किसान