हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

शुरू करें गाय के गोबर से टाइल्स बनाने का बिजनेस

होगा बंपर मुनाफा

 

गोबर से कई तरह के उत्पाद तैयार किए जा रहे हैं, इसी कड़ी में आज हम आपको गाय के गोबर से टाइल बनाने की प्रक्रिया बताने जा रहे हैं…

 

गोबर का इस्तेमाल खाद के तौर पर आपने किया ही होगा, मगर अब बढ़ती तकनीक के साथ गोबर से निर्मित कई उत्पादों का निर्माण किया जा रहा है.

गाय के गोबर से अब घर की सजावट के कई प्रकार के उत्पाद और वस्तुएं तैयार की जा रही हैं.

गाय के गोबर के फायदे को वैज्ञानिक प्रमाण मिल चुका है.

इसी कड़ी में आज हम आपको गोबर से टाइल्स बनाने का बिजनेस आइडिया साझा करने जा रहे हैं.

 

हम जान लेते हैं इसके फायदे

गोबर से बनने वाली टाइल्स दिखने में काफी खूबसूरत और मनमोहक होती हैं.

खास बात यह कि गर्मियों के दिनों में गोबर से निर्मित टाइल ए.सी (AC) का भी काम करती हैं, क्योंकि गोबर से बनीं टाइल्स से कमरे का तापमान 6 से 8 डिग्री तक कम हो जाता है.

इस व्यवसाय को ग्रामीण और शहरी दोनों जगहों पर आसानी से शुरू किया जा सकता है.

गोबर से निर्मित टाइल्स से घर बनाकर लोग शहरों में भी गांव जैसे मिट्टी के घरों का आनंद उठा सकते हैं.

बता दें कि गाय का गोबर घर के साथ-साथ वातावरण को भी शुद्ध कर प्रदूषण कम करता है, यही वजह है कि आज भी गांवों में गाय के गोबर से लिपाई-पुताई की जाती है.

 

टाइल्स बनाने के लिए सामग्री

  • गोबर का सूखा चूरा
  • नील गिरी के पत्ते
  • चूना पाउडर   
  • लकड़ी का बुरादी
  • चंदन पाउडर
  • कमल के पत्ते

 

गाय के गोबर से टाइल्स बनाने की विधि
  • गाय के गोबर के टाइल्स बनाने की विधि बेहद आसान है. सबसे पहले गाय के गोबर को 2-3 दिनों तक धूप में अच्छे से सूखा लें.
  • अब सूखे हुए गोबर को मशीन की सहायता से चूरा बना लें.
  • चूरा तैयार होने के बाद इसमें अब नील गिरी के पत्ते, चूना, कमल के पत्ते और चंदन पाउडर को अच्छे से मिला लें. इससे घर में शुद्धता और ठंडक बनी रहेगी.
  • अब मिश्रण के बाद पेस्ट तैयार कर लें.
  • अभी इस पेस्ट को अलग-अलग टाइल या ईंट बनाने वाले सांचे में डाल दें.
  • अब आपका टाइल बनकर तैयार है.

 

व्यवसाय को शुरू करने में लागत

गोबर से टाइल्स बनाने के बिजनेस के लिए आपको जरुरत होगी टाइल्स बनाने वाली मशीन की.

इसके लिए आपकी लागत 50 हजार रुपए से 1 लाख रुपए तक आ सकती है.

इसके बाद आप बाजार मांग के हिसाब से अपनी आमदनी दोगुनी कर सकते हैं.

यह भी पढ़े : अब हर किसान के पास होगा खुद का कृषि ड्रोन

 

यह भी पढ़े : नैनो यूरिया के साथ किसान की एक सेल्फी दिला सकती है 2,500 रुपये

 

शेयर करें