हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

इन खतरनाक रोगों का शिकार हो सकती हैं सब्जियों की फसलें

सब्जियों की खेती के लिए ये वक्त काफी संवेदनशील है. इन पर खतरनाक रोगों का खतरा मंडराने लगा है.

कुछ ऐसे रोग हैं जो आपकी पूरी फसल बर्बाद कर सकते हैं. इसका प्रभाव किसानों की आय पर पड़ेगा.

 

बचाव के उपाय

धान की फसल के साथ-साथ सब्जियों की खेती के लिए ये समय बहुत संवेदनशील है.

इस वक्त सब्जियों की फसल में कई तरह के रोग लग रहे हैं. इससे किसानों की पैदावार कम हो रही है.

पैदावार कम होने के चलते उनकी आमदनी में कमी दर्ज की जा रही है.

आज हम सब्जियों में लगने वाले विभिन्न रोगों और उनसे निपटने के तरीके के बारे में बताएंगे.

 

टमाटर, मिर्च, बैंगन, फूलगोभी व पत्तागोभी की फसल का ऐसे करें बचाव

टमाटर, मिर्च, बैंगन, फूलगोभी व पत्तागोभी में फल छेदक, शीर्ष छेदक लगता है.

इसकी निगरानी के ल‍िए फिरोमोन ट्रैप का इस्तेमाल करें. प्रत‍ि एकड़ 3-4 ट्रैप का इस्तेमाल हो तो अच्छा है.

प्रकोप अधिक दिखाई दे तो स्पेनोसेड़ 1.0 मिली प्रत‍ि 4 लीटर पानी में मिलाकर छिड़काव करें. 

 

भिंडी, मिर्च और बैंगन जैसी सब्जियों पर माईट, जैसिड और होपर जैसे रोगों का खतरा

टमाटर, मिर्च, बैंगन, फूलगोभी व पत्तागोभी के अलावा भिंडी, मिर्च और बैंगन की फसल में माईट, जैसिड और होपर जैसे रोगों का खतरा बढ़ गया.

इन फसलों से कीटों के रोकथाम के लिए लाइट ट्रैप का भी इस्तेमाल कर सकते हैं.

इसके लिए एक प्लास्टिक के टब या किसी बरतन में पानी और थोड़ा कीटनाशी मिलाकर एक बल्ब जलाकर रात में खेत के बीच में रखे दें.

लाइट से कीट आकर्षित होकर उसी घोल पर गिरकर मर जाएंगे.

 

अगेती मटर और सरसों की साग की ऐसे करें देखभाल

किसान इस समय अगेती मटर की बुवाई के लिए बीज की व्यवस्था कर रहे हैं.

इसकी उन्नत किस्में- पूसा प्रगति, पंत मटर-3 और आर्किल हैं. इसके लिए खेतों को पहले से तैयार कर लें.

इस मौसम में किसान गाजर की बुवाई मेड़ों पर कर सकते हैं. इसकी उन्नत किस्म पूसा रूधिरा है.

बीज दर 4.0 किलोग्राम प्रति एकड़ डालें. बुवाई से पहले बीज को केप्टान @ 2 ग्राम प्रति क‍िलोग्राम बीज की दर से उपचार करें.

खेत में देसी खाद, पोटाश और फास्फोरस उर्वरक अवश्य डालें. अंकुरण के लिए म‍िट्टी में उचित नमी का होना आवश्यक है.

वहीं, सरसों की साग की बेहतर विकास के लिए उसकी बुवाई कर उथली क्यारियों पर करें.

देखे बैटरी से संचालित लहसुन कटिंग मशीन