हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

इस पेड़ की खेती से कमा सकते हैं 70 लाख रुपये तक का मुनाफा

कम लागत में बढ़िया कमाई

 

सफेदा यानी यूकेलिप्टस के पेड़ को कहीं भी उगाया जा सकता है. इसके लिए किसी खास जलवायु की आवश्यकता नहीं होती.

इसके अलावा मौसम का भी इसपर कोई असर नहीं पड़ता. इसकी खेती हर मौसम के लिए उपयुक्त मानी जाती है.

इसके अलावा ये पेड़ सीधा ही बढ़ता है, ऐसे में इसे लगाने के लिए ज्यादा जगह की भी आवश्यकता नहीं होती.

 

क्या आपको पता है कि पेड़ों की खेती से लाखों-करोड़ों रुपये का मुनाफा कमाया जा सकता है.

सागवान से लेकर सफेदा तक की खेती करके किसान तगड़ा मुनाफा कमा सकते हैं.

इन पेड़ों की खेती में ज्यादा मेहनत की आवश्यकता भी नहीं है. साथ ही इसकी खेती में खर्च भी कम आता है.

 

सफेदा के पेड़ की खेती

सफेदा यानी यूकेलिप्टस के पेड़ को कहीं भी उगाया जा सकता है. इसके लिए किसी खास जलवायु की आवश्यकता नहीं पड़ती.

इसके अलावा इस पर मौसम का भी कोई असर नहीं पड़ता है. इसकी खेती हर मौसम के लिए उपयुक्त मानी जाती है.

इसके अलावा ये पेड़ सीध ही बढ़ता है, ऐसे में इसे लगाने के लिए ज्यादा जगह की भी आवश्यकता नहीं होती.

 

विशेषज्ञों के अनुसार, एक हेक्टेयर क्षेत्र में यूकेलिप्टस के 3000 हजार पौधे लगाए जा सकते हैं.

इस पौधे की नर्सरी से बहुत ही आसानी से 7 या 8 रुपये में ही मिल जाते हैं.

इस अनुमान से इसकी खेती में  21 हजार से 30 हजार रुपये का ही खर्च आता है.

ऐसे में 21 हजार रुपये लगाकर लाखों को मुनाफा हासिल होता है तो किसान के लिए फायदे का सौदा है.

 

70 लाख तक का मुनाफा

सफेदा की लकड़ियों का इस्तेमाल पेटियां, ईंधन, हार्ड बोर्ड, फर्नीचर और पार्टिकल बोर्ड इत्यादि बनाने के लिए किया जाता है.

5 साल में भी ये पेड़ कटाई के लिए तैयार हो जाता है. हालांकि, अगर इसकी कटाई 8 से 10 सालों में की जाए तो इससे मुनाफा अच्छा मिलता है.

एक पेड़ से लगभग 400 किलो लकड़ी प्राप्त होती है. बाज़ार में यूकलिप्टस की लकड़ी 6-7 रुपये प्रति एक किलो के भाव बिकती है.

ऐसे में अगर हम एक हेक्टेयर में तीन हजार पेड़ लगाते हैं तो आसानी से 72 लाख रुपये तक कमा सकते हैं.

यह भी पढ़े : गेहूं की उत्पादकता बढ़ाने के लिए इन खाद-उर्वरकों का करें छिड़काव

 

यह भी पढ़े : देशी गाय पालने वाले को मिलेगा 2 लाख रुपए का ईनाम

 

शेयर करें