हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

MP Weather : 5 दिनों तक ऐसा ही रहेगा मौसम, वातावरण में नमी हुई कम

 

13 जिलों में लू का अलर्ट

 

वर्तमान में कोई वेदर सिस्टम एक्टिव नहीं है, लेकिन बंगाल की खाड़ी में विकसित हुए चक्रवातीय तूफान के कारण नमी कम होने लगी है।

 

मध्य प्रदेश में वर्तमान में कोई वेदर सिस्टम एक्टिव नही है, लेकिन बंगाल की खाड़ी में विकसित हो रहे चक्रवातीय तूफान ने हवा को कम कर दिया है, जिसके चलते राजस्थान से आने वाली हवाओं को मजबूती मिली है और प्रदेश में गर्मी तेज होने लगी है।

मध्य प्रदेश मौसम विभाग ने आज 6 अप्रैल 13 जिलों में हीट वेव का येलो अलर्ट जारी किया गया है और 18 किमी/घंटा की रफ्तार से हवा चल सकती है।

आने वाले दिनों में तापमान में इजाफा हो सकता है।

 

लू का येलो अलर्ट

एमपी मौसम विभाग के अनुसार, आज 6 अप्रैल 2022 को छिंदवाड़ा, गुना, सतना, ग्वालियर, अशोकनगर, राजगढ़, सागर, दमोह, छतरपुर, खरगोन, धार, शाजापुर और रतलाम आदि जिलों लू का येलो अलर्ट जारी किया गया है।

पिछले 24 घंटे में सबसे अधिकतम तापमान 44 डिग्री सेल्सियस खरगोन  में दर्ज किया गया है।

पिछले 24 घंटे में सभी जिले शुष्क रहे लेकिन सतना, रीवा, सीधी, छिंदवाड़ा, खजुराहों,नौगांव, सागर, दमोह, राजगढ़, रतलाम, गुना और खरगोन में लू का असर रहा।

 

मप्र में फिर लू चलने लगी

मौसम विभाग के मुताबिक,वर्तमान में कोई वेदर सिस्टम एक्टिव नहीं है, लेकिन बंगाल की खाड़ी में विकसित हुए चक्रवातीय तूफान के कारण नमी कम होने लगी है और आसपास के राज्‍यों राजस्थान, गुजरात, महाराष्ट्र में तापमान काफी बढ़ गया है, जिसका असर प्रदेश पर भी दिखाई दे रहा है।

इतना ही नहीं गर्म पश्चिमी हवाओं के कारण मप्र में फिर लू चलने लगी है। अगले पांच दिनों तक मौसम के ऐसा ही बने रहने के आसार है।

राजस्थान से आने वाली हवा की गति 6 किमी प्रतिघंटा है और रात में उत्तर पश्चिमी हवा चल रही है, ऐसे में ग्वालियर के तापमान में बदलाव देखने को मिल रहा है।

source : mpbreakingnews

यह भी पढ़े : खरीफ फसल का ऋण चुकाने की अंतिम तिथि बढ़ाई गई

 

यह भी पढ़े : आधार से लिंक खातों में ही होगा पीएम किसान सम्मान निधि की राशि का भुगतान

 

शेयर करे