हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें
WhatsApp Group Join Now

ये काम पूरा करने पर ही मिलेगी पीएम किसान योजना की राशि

अपनाएं ये प्रकिया

 

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि की 12वीं किस्त के दौरान उत्तर प्रदेश से अकेले 21 लाख से अधिक लोगों का नाम काट दिया गया था.

अन्य राज्यों का भी यही हाल था. इस बार भी उत्तर प्रदेश, बिहार लाखों किसानों के ऊपर इस लिस्ट से बाहर हो जाने का खतरा मंडरा रहा है.

 

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के तहत किसानों को हर साल 6 हजार रुपये की आर्थिक मदद की जाती है.

किसानों के खाते में ये राशि डीबीटी माध्यम से 3 किस्तों में ट्रांसफर की जाती है.

किसान बेसब्री से इस योजना की 13वीं किस्त का इंतजार कर रहे हैं.

हालांकि, फरवरी के 15 दिन बीत जाने के बाद भी किसानों के खाते में दो हजार रुपये की राशि नहीं पहुंच पाई है.

 

लाभार्थियों की संख्या में आ सकती है भारी कमी

इस योजना को लेकर भूलेखों के सत्यापन जारी हैं.

आशंका जताई जा रही है कि इस दौरान बड़ी संख्या में लोगों को इस योजना से बाहर किया जा सकता है.

12वीं किस्त के दौरान उत्तर प्रदेश से अकेले 21 लाख से अधिक लोगों का नाम काट दिया गया था.

अन्य राज्यों का भी यही हाल था. इस बार भी उत्तर प्रदेश, बिहार लाखों किसानों के ऊपर इस लिस्च से बाहर हो जाने का खतरा मंडरा रहा है.

 

जल्द पूरा कर लें ई-केवाईसी

अगर आपने ई-केवाईसी की प्रकिया पूरी नहीं की है तो 13वीं किस्त आपको नहीं मिलेगी.

आगामी किस्तों का लाभ उठाने के लिए किसान इस योजना की ऑफिशियल वेबसाइट पर विजिट कर ई-केवाईसी की प्रकिया पूरा कर लें.

अन्यथा आप पीएम किसान योजना के लाभ से वंचित रह जाएंगे.

वेबसाइट के अलावा आप सीएससी सेंटेर पर भी जाकर ई-केवाईसी करा सकते हैं.

हालांकि, सीएससी सेंटर बतौर शुल्क आपसे 15 से 20 रुपये लिए जा सकते हैं.

 

किसान यहां कर सकते हैं संपर्क

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि की 13वीं किस्त को लेकर किसान आधिकारिक ईमेल आईडी pmkisan-ict@gov.in पर संपर्क कर सकते हैं.

पीएम किसान योजना के हेल्पलाइन नंबर- 155261 या 1800115526 (Toll Free) या फिर 011-23381092 पर भी संपर्क कर सकते हैं.

यहां किसानों की सारी समस्याओं का समाधान किया जा सकेगा.

यह भी पढ़े : मात्र 50 रुपए के निवेश से किसानों को मिलेगा 35 लाख रुपए का रिटर्न

 

यह भी पढ़े : नैनो यूरिया के साथ किसान की एक सेल्फी दिला सकती है 2,500 रुपये

 

शेयर करें